दिल और नसीब‬ की कभी नही बनती

Mujhe Khud Par Itna To Yaqeen Hai

मुझे खुद पर इतना तो यकीन है
कोई मुझे छोड़ तो सकता है मगर भुला नहीं सकता!!

ढूंढ रहे हैं वो हमे भूलने के बहाने
सोचते हैं टूट के उनकी मुश्किल आसान कर दे!!

‪दिल और नसीब‬ की कभी नही बनती
क्यूंकी‬ ‪‎जो दिल‬ में होता है वो नसीब में नही होता!!