ये जिंदगी तब हसीन होती है

ये जिंदगी तब हसीन होती है;
जब हर दुआ कबूल होती है;
कहने को तो सब हे यहाँ पर;
काश कोई ऐसा होता जो आकर;
ये कहे कि तेरे दर्द से मुझे भी तकलीफ होती!!

लहरों के होठों पे धीमा धीमा राग है

लहरों के होठों पे धीमा धीमा राग है
भीगी हवाओं में ठंडी ठंडी आग है!

इस हसीन आग में तू भी जल के देखले
जिंदगी के गीत की धुन बदलके देखले!!

मेरी मोहब्बत है वो कोई मज़बूरी तो नही

मेरी मोहब्बत है वो
कोई मज़बूरी तो नही;
वो मुझे चाहे या मिल जाये
जरूरी तो नही;
ये कुछ कम है कि बसा है
मेरी साँसों में वो;
सामने हो मेरी आँखों के
जरूरी तो नही !!