गुलाब खिलते रहे ज़िंदगी की राह् में

Hindi Love Shayari

गुलाब खिलते रहे ज़िंदगी की राह् में;
हँसी चमकती रहे आप कि निगाह में;
खुशी कि लहर मिलें हर कदम पर आपको;
देता हे ये दिल दुआ बार–बार आपको !!

Gulaab Khilte Rahe Zindagi Ki Raah Mein;
Hansi Chamakti Rahe Aap Ki Nigaah Mein;
Khushi Ki Lahar Milen Har Kadam Par Aapko;
Deta He Ye Dil Dua Baar-Baar Aapko!!

किस्मत पर नाज़ है तो वजह तेरी रहमत

Hindi Love Shayari

किस्मत पर नाज़ है तो वजह तेरी रहमत;
खुशियां जो पास है तो वजह तेरी रहमत;
मेरे अपने मेरे साथ है तो वजह तेरी रहमत;
मैं तुझसे मोहब्बत की तलब कैसे न करूँ;
चलती जो ये सांस है तो वजह तेरी रहमत !!

Kismat par naaz hai to wajah teri rahmat
Khushiyaan jo paas hai to wajah teri rahmat
Mere apne mere saath hai to wajah teri rahmat
Main tujhase mohabbat ki talab kaise na karoon
Chalti jo ye saans hai to wajah teri rahmat.

समझ ना आया ऐ जिंदगी तेरा ये फलसफा

Bewafa Shayari

समझ ना आया ऐ जिंदगी तेरा ये फलसफा;
एक तरफ कहती है सबर का फल मीठा होता है;
और दूसरी तरफ कहती है;
वक़्त किसी का इंतजार नही करता!!

Samajh na aaya e jindagi tera ye phalasaapha;
Ek taraph kahti hai ki sabar ka phal meetha hota hai;
Aur doosari taraph kahti hai;
Vaqt kisi ka intajaar nahi karta!!

तेरी धड़कन ही ज़िंदगी का किस्सा है मेरा

Shayari of Bewafa

तेरी धड़कन ही ज़िंदगी का किस्सा है मेरा;
तू ज़िंदगी का एक अहम् हिस्सा है मेरा;
मेरी मोहब्बत तुझसे, सिर्फ़ लफ्जों की नहीं है;
तेरी रूह से रूह तक का रिश्ता है मेरा!!

Teri Dhadkan Hi Zindagi Ka Kissa Hai Mera;
Tu Zindagi Ka Ek Aham Hissa Hai Mera;
Meri Mohabbat Tujhse, Sirf Lafajon Ka Nahi Hai;
Teri Ruh Se Ruh Tak Ka Rishta Hai Mera!!

रोया हूँ बहुत तब जरा करार मिला है

रोया हूँ बहुत तब जरा करार मिला है;
इस जहाँ में किसे भला सच्चा प्यार मिला है;
गुजर रही है जिंदगी इम्तिहान के दौर से;
एक ख़तम तो दूसरा तैयार मिला है !!

दिल मैं हर राज़ दबा कर रखते है

दिल मैं हर राज़ दबा कर रखते है;
होंटो पर मुस्कराहट सजाकर रखते है;
ये दुनिया सिर्फ़ खुशी मैं साथ देती है;
इसलिए  हम अपने आँसुओ को छुपा कर रखते है !!

तुम्हारे प्यार की दास्तां हमने अपने दिल में लिखी है

तुम्हारे प्यार की दास्तां हमने अपने दिल में लिखी है;
न थोड़ी न बहुत बे-हिसाब लिखी है;
किया करो कभी हमे भी अपनी दुआओं में शामिल;
हमने अपनी हर एक सांस तुम्हारे नाम लिखी है!!

किसी ने क्या खूब लिखा है

किसी ने क्या खूब लिखा है-
कल न हम होंगे न गिला होगा;
सिर्फ सिमटी हुई यादों का सिललिसा होगा;
जो लम्हे हैं चलो हंसकर बिता लें;
जाने कल जिंदगी का क्या फैसला होगा!

रूठी जो जिदंगी तो मना लेंगे हम

रूठी जो जिदंगी तो मना लेंगे हम;
मिले जो गम वो सह लेंगे हम;
बस आप रहना हमेशा साथ हमारे तो;
निकलते हुए आंसूओ में भी मुस्कुरा लेंगे हम!!

उजड़ी हुई दुनिया को तू आबाद न कर

उजड़ी हुई दुनिया को तू आबाद न कर;
बीते हुए लम्हों को तू याद न कर;
एक कैद परिंदे ने ये कहा हम से;
मैं भुल चुका हूं उड़ना मुझे आजाद न कर!!