कैसी अजीब ये तुझसे जुदाई थी

Bewafa Hindi Shayari

कैसी अजीब ये तुझसे जुदाई थी;
की तुझे अलविदा भी ना कह सका
तेरी सादगी मे इतना फरेब था;
की तुझे बेवफा भी ना कह सके!

हसीनो ने हसीन बनकर गुनाह किया

Shayari of Bewafa

हसीनो ने हसीन बनकर गुनाह किया;
औरों को तो क्या हमको भी तबाह किया;
पेश किया जब ग़ज़लों में उन्हे उनकी बेवफ़ाई को;
औरों ने तो क्या उन्होने भी वाह-वाह किया!

Khushi Wear

गहराई प्यार मे हो तो बेवफ़ाई नही होती

Bewafa Sad Shayari In Hindi

गहराई प्यार मे हो तो बेवफ़ाई नही होती; सच्चे प्यार मे कभी तन्हाई नही होती;
प्यार ज़रा संभाल के करना; प्यार के ज़ख़्म की कोई दवाई नही होती!

अपनो ने ज़हर का जाम दे दिया

Hindi Bewafa Shayari

अपनो ने ज़हर का जाम दे दिया; गैरों ने बेवफा नाम दे दिया;
वो जो कहते थे भूल ना जाना हमे; आज उन्होने ही भरी महफ़िल मे अंजान कह दिया!!

नसीब मेरा क्यू मुझसे खफा हो जाता है

Bewafa Shayari Hindi

नसीब मेरा क्यू मुझसे खफा हो जाता है;
अपना जिसको भी मानो बेवफा हो जाता है;
क्यू ना हो शिकायत मेरी नज़रो को रात से;
ख्वाब पूरा होता नही और सवेरा हो जाता है!!

काश उन्हें चाहने का अरमान नही होता

काश उन्हें चाहने का अरमान नही होता;
में होश में होकर भी अंजान नही होता;
ये प्यार ना होता किसी पत्थर दिल से;
या फिर कोई पत्थर दिल इंसान ना होता ||

हाथ पकड़ कर रोक लेते अगर

हाथ पकड़ कर रोक लेते अगर;
तुझ पर ज़रा भी ज़ोर होता मेरा;
ना रोते हम यूँ तेरे लिये;
अगर हमारी ज़िन्दगी में;
तेरे सिवा कोई ओर होता !!

कभी उसने भी हमें चाहत का पैगाम लिखा था

कभी उसने भी हमें चाहत का पैगाम लिखा था;
सब कुछ उसने अपना हमारे नाम लिखा था;
सुना है आज उनको हमारे जिक्र से भी नफ़रत है;
जिसने कभी अपने दिल पर हमारा नाम लिखा था ।।