हमने चाहा था जिसे उसे दिल से भुलाया न गया

हमने चाहा था जिसे उसे दिल से भुलाया न गया;
जख्म अपने दिल का लोगों से छुपाया न गया;
बेवफाई के बाद भी प्यार करता है दिल उनसे;
कि बेवफाई का इल्ज़ाम भी उस पर लगाया न गया!!

Khushi Wear

तुम क्या जानो क्या है तन्हाई

तुम क्या जानो क्या है तन्हाई;
टूटे हर पत्ते से पूछो क्या है जुदाई;
यूँ बेवफ़ाई का इल्ज़ाम ना दे ए-ज़ालिम;
इस वक़्त से पूछ किस वक़्त तेरी याद ना आई!

दिल टूटेगा तो फरियाद करोगे तुम भी

दिल टूटेगा तो फरियाद करोगे तुम भी;
हम न रहे तो हमने याद करोगे तुम भी;
आज कहते हो हमारे पास वक़्त नहीं हैं;
पर एक दिन मेरे लिए वक़्त बर्बाद करोगे तुम भी!!

तुम अगर याद रखोगे तो इनायत होगी

तुम अगर याद रखोगे तो इनायत होगी;
वरना हमको कहाँ तुम से शिकायत होगी;
ये तो वही बेवफ़ा लोगों की दुनिया है;
तुम अगर भूल भी जाओ जो रिवायत होगी!!