इंसान यदि सुकर्म करे तो उसका फल सूद सहित मिलता है

इंसान यदि सुकर्म करे तो
उसका फल सूद” सहित मिलता है
और दुस्कर्म” करे तो सूद” सहित भोगना पड़ता है।

एक दिन School मे School Teacher ने Board पर लिखा

एक दिन School मे School Teacher ने Board पर लिखा:-

10×1=9
10×2=20
10×3=30
10×4=40
10×5=50
10×6=60
10×7=70
10×8=80
10×9=90
10×10=100

लिखने के बाद बच्चों को देखा तो बच्चे Teacher पर हंस रहे थे
क्योंकि पहली लाइन गलत थी!

फिर Teacher ने कहा: “मैंने पहली लाइन किसी उद्देश्य से गलत लिखी है
मैं कुछ महत्वपूर्ण सिखाना चाहता हूं।

दुनिया तुम्हारे साथ ऐसा ही व्यवहार करेगी!

तुम देख सकते हो कि मैंने 9 बार सही लिखा है
पर किसी ने मुझे “Congratulate” नहीं किया!

पर मेरी एक गलती पर आप हंसे और मुझे Criticize किया।

तो यही नसीहत है:- दुनिया कभी आपके लाख अच्छे कार्यों को
Appreciate नहीं करेगी; परन्तु आपके द्वारा की गई एक गलती
को Criticize जरूर करेगी!!