एक पल का एहसास बनकर आते हो तुम

एक पल का एहसास बनकर आते हो तुम;
दूसरे ही पल ख्वाब बनकर उड़ जाते हो तुम;
जानते हो की लगता है डर तन्हाइयों से हमें;
फिर भी बारबार तन्हा छोड़ जाते हो तुम !!

Khushi Wear

Leave a Comment