इंसान यदि सुकर्म करे तो उसका फल सूद सहित मिलता है

इंसान यदि सुकर्म करे तो
उसका फल सूद” सहित मिलता है
और दुस्कर्म” करे तो सूद” सहित भोगना पड़ता है।